गाँव की खेतियाँ उजाड़…

Mera Gaon

अब न गेंहू न धान बोते हैं, अपनी किस्मत किसान बोते हैं,

गाँव की खेतियाँ उजाड़ के हम शहरों के मकान बोते है.

Loved By Other People